Widget Recent Post No.

Motivational Story || Inspirational || Heart touching

मुस्कराहट वो हीरा है जिसे आप बिना ख़रीदे पहन सकते हैं और जब तक यह हीरा आप के पास हैं आप को सुन्दर दिखने के लिए किसी और की जरूरत नहीं हैं एक छोटी सी लड़ाई से हम अपना प्यार ख़तम कर लेते है इससे तो अच्छा हैं हम प्यार से लड़ाई ख़तम कर ले दुनिया का सबसे बेहतरीन रिश्ता वही होता हैं जहाँ एक हलकी सी मुस्कराहट और  छोटी सी माफ़ी से जिंदगी दुबारा पहले जैसी हो जाये किसी का दिल दुखाना समुन्द्र में फेके गए पत्थर के सामान हैं वो पत्थर अंदर कितना गहरा जायेगा इसका अंदाजा लगाना मुश्किल है रिश्ते निभाना हमें बच्चो से सीखना चाहिए अगर वो झगड़ा भी करते है तो केवल एक या दो घंटा फिर पहले जैसे मिल जाते हैं रिश्ते स्वार्थ निकलने के लिए नहीं रिश्ते साथ निभाने के लिए बनाये जाते है आज की सुन्दर यात्रा केवल तब शुरू हो सकती है जब हम कल को जाने बिना सीखते हैं अगर किसी बच्चे  को उपहार दिया जाये तो वो कुछ देर रोएगा अगर सँस्कार ना दिए जाये तो वो जीवन भर रोएगा खुश रहने का मतलब यह नहीं हैं की सब कुछ ठीक है इसका मतलब हैं की आप ने अपने दुखो से उठ कर जीना सिख लिया है अगर आप किसी की खुशियाँ लिखने वाली पेन्सिल नहीं बन सकते तो काम से काम एक अच्छा सा इरेजर तो बन ही सकते है जो उनके दुखो को मिटा सके सारा दिन  में हम कितने लोगों से पुछते हैं क्या हाल है आप कैसे हैं आप को कुछ चाहिए आज से एक नया रिश्ता जोड़ते  हैं हरक घंटे बाद एक मिनट के लिए अपने मन से पूछिए की आप ठीक हैं अगर ठीक ना लगे तो उससे प्यार से बात करके उसको ठीक कर ले कोई ऐसी सब्जी हैं जो सबको पसंद हो कोई ऐसा गाना जो सब सुनना  चाहते हो कोई भी नहीं ये सच हम सब जानते हैं फिर चाहते हैं की लोग हमारे अनुसार हो हरेक की सोच हरेक का नजरिआ हरेक का निर्णय अलग अलग होता हैं यह बात हर सुबह अपने आप को याद दिलाये हमारा दिन अच्छा गुज़रेगा बाहर की दुनिया का गलत पढ़ते सुनते देखते हमारे अंदर की दुनिया में दुःख क्रोध नफरत बहुत कुछ गलत होने लगता गया वो हमारे कर्मो में गया और बहार की दुनिया में गलत बढ़ता गया अपने अंदर की दुनिया को स्वच्छ रखे अंदर की दुनिया से भी बहार की दुनिया बनती है उपजाऊ ज़मीन पर अच्छे मौसम में शक्तिशाली बीज डाला जाये तो फल अच्छा निकलता हैं सुबह के समय शांत मन हैं बुद्धि साफ हैं वायुमंडल सात्विक हैं शक्तिशाली संकल्प रूप ही बीज डाले मैं दिव्या आत्मा हु मैं परमात्मा का का फरिस्ता हु हर कर्म रूपी फल प्यार के रस से फरपुर होगा कभी मन कहता है इससे बात नहीं करनी ये बात मैं कभी नहीं भूल सकती कभी मन कहता है कोई बात नहीं छोड़ दो हम तो सही करे मन कभी सही सोचता हैं तो कभी गलत क्योकि आत्मा में प्यार का संस्कार हैं और नफरत का भी जिस संस्कार को ज्यादा इस्तेमाल करेंगे वो स्वभाव बनता जायेगा जो मन की पीड़ा को इस्पस्ट रूप से नहीं कह सकता उसी को क्रोध अधिक आता  हैं आपका दिमाग आपका सबसे अच्छा दोस्त हैं अगर आप इसे कण्ट्रोल करते हैं लेकिन अगर आप का दिमाग आप को कण्ट्रोल करता हैं तो वो आप का सबसे बड़ा दुश्मन हैं मन में कोई उलझन हो निर्णय लेना मुश्किल लगा रहा हो रोज सुबह शांति में बैठे परमात्मा को अपनी उलझन बताये जैसे औरो से राय  मांगते हैं परमात्मा से कहे मुझे बताइये मेरे लिए क्या सही हैं हर सुनी सुनाई बात पर यकीन  ना करिये एक कहानी के हमेसा तीन पहलु होते हैं आपका, उनका और सच अगर आप किसी की हेल्प करते है और बदले में कुछ वापस चाहते हैं तो आप बिज़नेस कर रहे हैं काइंडनेस नहीं सत्य एक डेबिट कार्ड हैं  पहले कीमत चुकाए और बाद में आनंद ले झुठ एक क्रेडिट कार्ड हैं पहले आनंद ले और बाद में कीमत चुकाए कभी भी घमंड या अहंकार में अपना सर ऊँचा ना उठाये याद रखिये स्वर्णपदक विजेता भी तभी पदक पता हैं जब वो अपना सर झुकता हैं सफलता प्रसन्ता की चाभी नहीं हैं प्रसन्ता सफलता की चाभी हैं अगर आप इस चीज से प्यार करते हैं जो कर रहे हैं तो आप सफल हो जायेंगे हर कोई अलग हैं कोई भी सही या गलत नहीं हैं बस अलग हैं स्वीकार करने का मतलब है की हम इस अंतर को स्वीकार करते आई को वी  में बदल दिया जाये तो इलनेस भी वैलनेस में बदल जाती हैं शिकायत करना आसान हैं लेकिन सुकराना  करना और भी आसान हैं आज एक दिन मन से सुकराना  करे परमात्मा का प्रकृति का लोगो का तन का अन्न का धन का सामान का साधनो का समस्याओ का हम से सही व्यवहार नहीं करने वालो का शुक्रिया हमारी सहन शक्ति बढ़ने के लिए आपकी मुस्कान आप के चेहरे पर भगवान की हस्ताक्षर हैं उसे अपने आंसुओ से धुलने या क्रोध से मिटने ना दे हमेसा इतना खुश रहे की दूसरे आप को देखे तो वो भी खुश हो जाये।


सिस्टर शिवानी के अनमोल वचन.

Post a Comment

0 Comments